Google+ Badge

Rajasthan GK- Major historical events


राजस्थान की प्रमुख ऐतिहासिक घटनाएँ (Rajasthan's major historical events)
 
5000 ई. पू. (BC.)
काली बंगा सभ्यता (kalibangan civilization)
3500 ई. पू. (BC.)
आहड़ सभ्यता (Ahar Civilization)
1000-600 ई. पू. (BC.)
आर्य सभ्यता
300 ई. पू. (BC.) - 600 ई. (AD)
जनपद युग
350-600 ई. (AD)
गुप्त वंश का हस्तक्षेप
6 वी व 7 वी. शताब्दियां
हूणों के आक्रमण, हूणों व गुर्जरों द्वारा राज्यों की स्थापना - हर्षवर्धन का हस्तक्षेप
728 E.
बाप्पा रावल द्वारा चितौड़ में मेवाड़ (Mewar) राज्य की स्थापना
सन 967
कछवाहा वंश घोलाराय द्वारा आमेर राज्य की स्थापना
सन 1018
महमूद गजनवी द्वारा प्रतिहार राज्य पर आक्रमण तथा विजय
सन 1031
दिलवाड़ा में विंमल शाह द्वारा आदिनाथ मंदिर का निर्माण
सन 1113
अजयराज द्वारा अजमेर (अजयमेरु) की स्थापना
सन 1137
कछवाहा वंश के दुलहराय द्वारा ढूँढ़ार राज्य की स्थापना
सन 1156
महारावल जैसलसिंह द्वारा जैसलमेर की स्थापना
सन 1191
मुहम्मद गोरी व पृथ्वीराज चौहान के मध्य तराइन का प्रथम युद्ध - मुहम्मद गोरी की पराजय
सन 1192
मुहम्मद गोरी व पृथ्वीराज चौहान के मध्य तराइन का द्वितीय युद्ध - पृथ्वीराज की पराजय
सन 1195
मुहम्मद गौरी द्वारा बयाना पर आक्रमण
सन 1213
मेवाड़ (Mewar) के सिंहासन पर जैत्रसिहं का बैठना
सन 1230
दिलवाड़ा में तेजपाल व वस्तुपाल द्वारा नेमिनाथ मंदिर का निर्माण
सन 1234
रावल जैत्रसिंह द्वारा इल्तुतमिश पर विजय
सन 1237
रावल जैत्रसिंह द्वारा सुल्तान बलवन पर विजय
सन 1242
बूँदी राज्य की हाड़ा राज देशराज द्वारा स्थापना
सन 1290
हम्मीर द्वारा जलालुद्दीन का आक्रमण विफल करना
सन 1301
हम्मीर द्वारा अलाउद्दीन खिलजी के आक्रमण को विफल करना, षड़यन्त्र द्वारा पराजित रणथम्मौर के किले पर 11 जुलाई को तुर्की का आधिकार स्थापित
सन 1302
रत्नसिंह गुहिलों के सिहासन पर आरुढ़
सन 1303
अलाउद्दीन खिलजी द्वारा राणा रत्नसिंह पराजित, पद्मिनी का जौहर, चितौड़ पर खिलजी का अधिकार, चितौड़ का नाम बदलकर खिज्राबाद
सन 1308
कान्हडदेव चौहान खिलजी से पराजित, जालौर का खिलजी पर अधिकार
सन 1326
राणा हमीर द्वारा चितौड़ पर पुन: अधिकार
सन 1433
कुम्भा (Kumbha) मेवाड़ (Mewar) के सिंहासन पर आरुढ़ 
सन 1440
महाराणा कुम्भा (Kumbha) द्वारा चितौड़ में विजय स्तम्भ का निर्माण
सन 1456
महाराणा कुम्मा द्वारा मालवा के शासन महमूद खिलजी को परास्त करना, कुम्भा (Kumbha) का शम्स खाँ को हराकर नागौर पर कब्जा
सन 1457
गुजरात व मालवा का मेवाड़ (Mewar) के विरुद्ध संयुक्त अभियान करना
सन 1459
राव जोधा द्वारा Jodhpur की स्थापना 
सन 1465
राव बीका द्वारा Bikaner राज्य की स्थापना 
सन 1488
Bikaner नगर का निर्माण पूर्ण
सन 1509
राणा संग्रामसिंह मेवाड़ (Mewar) के शासक बने
सन 1518
महाराणा जगमल सिंह द्वारा बाँसवाड़ राज्य की स्थापना 
सन 1527
राणा संग्राम सिंह का बयाना पर अधिकार तथा बाबर के हाथों पराजय
सन 1528
राणा सांगा का निधन
सन 1532
राजा मालदेव द्वारा अपने पिता राव गंगा की हत्या पर मारवाड़ की सत्ता पर कब्जा
सन 1538
मालदेव का सिवाना व जालौर पर अधिपत्य
सन 1541
राजा मालदेव द्वारा हुमायू को निमंत्रण देना
सन 1542
राजा मालदेव का Bikaner नरेश जैत्रसिंह को परास्त करना, जैत्रसिंह की मृत्यु, हुमायूँ का मारवाड़ सीमा मे प्रवेश
सन 1544
राजा मालदेव व शेरशह के मध्य जैतारण (सामेल) का युद्ध, मालदेव की पराजय
सन 1547
भारमल आमेर का शासक बना
सन 1559
राजा उदयसिंह द्वारा Udaipur नगर की स्थापना 
सन 1562
राजा मालदेव का निधन, मालदेव का तृतीय पुत्र राव चन्द्रसेन मारवाड़ के सिंहासन पर आरुढ
सन 1562
आमेर के राजा भारमल ने अपनी पुत्री का विवाह सांभर से सम्पन्न कराया
सन 1564
राव चन्द्रसेन की पराजय, Jodhpur मुगलों के अधीन
सन 1569
रणथम्भौर नरेश सुर्जन हाडा की राजा मानसिंह से सन्धि, हाड़ पराजित
सन 1572
राणा उदयसिंह की मृत्यु, महाराणा प्रताप का राज्याभिषेक
सन 1572
अकबर द्वारा रामसिंह को Jodhpur का शासक नियुक्त
सन 1573
राजा मानसिंह की महाराणा प्रताप से मुलाकात
सन 1574
Bikaner नरेश कल्याणमल का निधन, रायसिंह का सिंहासनरुढ़ होना।
सन 1576
हल्दीघाटी का युद्ध, महाराणा प्रताप की सेना मुगल सेना से पराजित
सन 1578
मुगल सेना द्वारा कुम्भलगढ़ पर अधिकार, प्रताप का छप्पन की पहाड़ियों में प्रवेश। चावड़ को राजधानी बनाना
सन 1580
अकबर के दरबार के नवरत्नों में एक अब्दुल रहीम खानखाना को अकबर द्वारा राजस्थान का सूबेदार नियुक्त करना।
सन 1589
आमेर के राजा भारमल की मृत्यु, मानसिंह को सिंहासन मिला
सन 1596
राजा किशन सिंह द्वारा किशनगढ़ (अजमेर) की नीवं
सन 1597
महाराणा प्रताप की चांवड में मृत्यु
सन 1605
सम्राट अकबर ने राजा मानसिंह को 7000 मनसव प्रदान किये।
सन 1614
राजा मानसिंह की दक्षिण भारत में मृत्यु
सन 1615
राणा अमरसिंह द्वारा मुगलों से सन्धि
सन 1621
राजा मिर्जा जयसिंह आमेर का शासक नियुक्त
सन 1625
माधोसिंह द्वारा कोटा राज्य की स्थापना
सन 1660
राजा राजसिंह द्वारा राजसमन्द का निर्माण प्रारम्भ
सन 1667
जयसिंह की दक्षिण भारत में मृत्यु
सन 1691
राजा राजसिंह द्वारा नाथद्वारा मंदिर का निर्माण
सन 1727
Sawai Jai Singh द्वारा जयपुर नगर का स्थापना
सन 1733
जयपुर नरेश Sawai Jai Singh का मराठों से पराजित होना
सन 1771
कछवाहा वंश के राव प्रतापसिंह ने अलवा राज्य की नींव डाली
सन 1818
झाला वंशजों द्वारा झालावाड़ राज्य की स्थापना
सन 1818
मेवाड़ (Mewar) के राजपूतों द्वारा ईस्ट इंडिया कम्पनी से संधि
सन 1838
माधव सिंह द्वारा झालावाड़ की स्थापना
सन 1857
28 मई को नसीरा बाद में सैनिक विद्रोह
सन 1887
राजकीय महाविद्यालय, अजमेर के छात्रों द्वारा कांग्रेस कमिटी का गठन
सन 1903
लार्ड कर्जन ने एडवर्ड - सप्तम के राज्यारोहण समारोह में Udaipur के महाराणा फतेहसिंह को आमंत्रण और महाराणा द्वारा दिल्ली प्रस्थान 
सन 1918
बिजोलिया किसान आन्दोलन
सन 1922
भील आन्दोलन प्रारम्भ
सन 1938
मेवाड़ (Mewar), अलवर, भरतपुर, प्रजामंडल गठित, सुभाषचन्द्र बोस की Jodhpur यात्रा
सन 1945
31 दिसम्बर को अखिल भारतीय देशी राज्य लोक परिषद के अन्तर्गत राजपूताना प्रान्तीय सभा का गठन
सन 1947
27 जून को रियासती विभाग की स्थापना
सन 1947
शाहपुरा में गोकुल लाल असावा के नेतृत्व में लोकप्रिय सरकार बनी जो 1948 में संयुक्त राजस्थान संघ में विलीन हो गई। 


No comments:

Post a Comment