Google+ Badge

REET Exam -2015_RAJASTHAN

शिक्षक भर्ती और पात्रता परीक्षा-2015 (REET) :




Rajasthan  माध्यमिक शिक्षा बोर्ड और प्रारंभिक शिक्षा विभाग ने शिक्षक भर्ती और पात्रता परीक्षा-2015 (REET)का विज्ञापन जारी कर दिया गया है। विज्ञापन के अनुसार रीट की परीक्षा 7 फरवरी 2016 को आयोजित होगी। परीक्षा के जरिए करीब 15 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती की जाएगी। 

  • बोर्ड की ओर से इस परीक्षा के लिए 18 नवंबर से 16 दिसंबर की रात 12 बजे तक ऑनलाइन फॉर्म भ्ररे जाएंगे।


इसके तहत अब प्रदेश में एक ही पेपर से भर्ती होगी। मेरिट जिलेवर ही बनेगी। आवेदन के समय अभ्यर्थियों को टीएसपी जिलों को छोड़कर अन्य जिलों की वरीयता बतानी होगी। परीक्षा का आयोजन राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (RBSC) ही कराएगा।

आवेदन : http://education.rajasthan.gov.in/reet2015  पर किए जा सकेंगे।

More Details @ RBSC, Rajasthan Website: - rajeduboard.nic.in

Ø  न्यूनतम 60% अंक

शिक्षक भर्ती और पात्रता परीक्षा-2015 (REET) में उत्तीर्ण होने के लिए न्यूनतम 60% अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा। REET की प्रस्तावित गाइडलाइन में यह प्रावधान है। NCTE की गाइडलाइन के मुताबिक TET में न्यूनतम 60 फीसदी अंक प्राप्त करने वाला ही शिक्षक भर्ती के योग्य माना गया है। REET और आरटेट की परीक्षा का स्तर समान है। इसको देखते हुए सरकार ने REET में उत्तीर्ण होने के लिए न्यूनतम 60 फीसदी अंक प्राप्त करना अनिवार्य किया है।

Ø  ऑनलाइन आवेदन की तीन श्रेणियां

सरकार ने अध्यापक भर्ती एवं पात्रता परीक्षा-2015 (REET) में हिस्सा लेने के लिए तीन श्रेणियां रखी हैं। इसके तहत भर्ती, भर्ती और पात्रता और सिर्फ पात्रता के तहत ऑनलाइन आवेदन मांगे जाएंगे। आवेदन एक ही होगा, लेकिन कैटेगिरी अलग-अलग चुन सकेंगे

1.  भर्ती एवं पात्रता के लिए
इस श्रेणी में अभ्यर्थी को लेवल प्रथम (कक्षा 1 से 5 तक) और लेवल द्वितीय (कक्षा 6 से 8 तक) की पात्रता तो मिलेगी ही, साथ ही वह भर्ती प्रक्रिया में भी शामिल होगा।
फीस : लेवल प्रथम या द्वितीय में से किसी एक स्तर के लिए 400 रु., दोनों के लिए 600 रु.।
फायदा इन्हें : फ्रेशर बीएड व बीएसटीसी अभ्यर्थी इसमें शामिल होंगे ही, वे भी शामिल हो सकते हैं, जिनके पास पहले से RTET की योग्यता है और अंकों में सुधार चाहते हैं। REET RTET दोनों उत्तीर्ण करने पर दोनों में से जिसमें ज्यादा अंक होंगे, उसी के आधार पर मेरिट बनेगी।

2. सिर्फ पात्रता के लिए
इसके तहत केवल लेवल प्रथम और लेवल द्वितीय की पात्रता ही मिलेगी। अभ्यर्थी जिलावार मेरिट में शामिल नहीं होगा। यानी वह भर्ती प्रक्रिया का हिस्सा नहीं होगा।
फीस : लेवल प्रथम या द्वितीय में से किसी एक स्तर के लिए 400 रु. और दोनों स्तरों की परीक्षा में शामिल होने के लिए 600 रुपए फीस होगी।
फायदा इन्हें : इसमें आयु सीमा का बंधन नहीं होगा। ऐसे में वे बीएड या बीएसटीसी धारी शामिल हो सकेंगे, जो सरकारी सेवा के लिए ओवरएज हो चुके हैं, लेकिन निजी स्कूलों में पढ़ाने के उन्हें REET की योग्यता की जरूरत है।

3.  केवल भर्ती के लिए
इस श्रेणी में ऐसे अभ्यर्थी शामिल हो सकेंगे, जिनके पास पहले से ही RTET की पात्रता है। ऐसे अभ्यर्थी इस परीक्षा के जरिये RTET के प्राप्तांकों के आधार पर मेरिट सूची में शामिल हो सकते हैं। इनको परीक्षा नहीं देनी होगी, लेकिन आवेदन करना होगा।
फीस : 200 रु. फीस चुकानी होगी।
फायदा इन्हें : RTET 2011 और RTET 2012 के वे अभ्यर्थी इसमें शामिल हो सकते हैं जिन्होंने यह परीक्षाएं 60 फीसदी अंकों से उत्तीर्ण कर रखी है। उन्हें RTET के अंकों के आधार पर जिलेवार मेरिट में शामिल कर लिया जाएगा।

Ø  E-Mitra और जन सुविधा केंद्रों से भरे जा सकेंगे ऑनलाइन फार्म

> ई-मित्र कियोस्क और जन सुविधा केंद्र के माध्यम से भरे जा सकेंगे। इसके लिए अभ्यर्थी को ई-मित्र कियोस्क या जनसुविधा केंद्र पर परीक्षा शुल्क के अलावा 10 रु. का सेवा शुल्क जमा कराकर टोकन प्राप्त करना होगा।
> इसके बाद वेबसाइट पर टोकन नंबर अंकित कर ऑनलाइन आवेदन पत्र भरना होगा। कियोस्क पर ही आवेदन पत्र भरवाने पर आवेदक को 20 रुपए की रसीद पृथक से कटवानी होगी। ऑनलाइन के अतिरिक्त किसी अन्य तरीके से आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा।
> ऑनलाइन आवेदन भरने के बाद अभ्यर्थी को इसका प्रिंट लेकर रखना होगा। इसके साथ घोषणा पत्र, शपथ पत्र एवं अन्य संबंधित दस्तावेजों की सत्यापित प्रति जमा करानी होगी। इसके लिए प्रदेशभर में नोडल केंद्र बनाए जाएंगे।

Ø  REET – Syllabus - Click Here

REET के सिलेबस में राजस्थान के सामान्य ज्ञान को शामिल नहीं किया है। पहले RTET को जो सिलेबस था वही REET का सिलेबस होगा।
REET की प्रस्तावित गाइडलाइन के अनुसार लेवल प्रथम (कक्षा 1 से 5 तक) और लेवल द्वितीय (कक्षा 6 से 8 तक) दोनों ही पेपर 150 अंकों के होंगे। प्रश्न पत्र हल करने के लिए 2 घंटे 30 मिनट का समय दिया जाएगा।
लेवल प्रथम : बहु विकल्पी प्रश्नों का मापदंड कक्षा 1 से 5 तक के निर्धारित पाठ्यक्रम के आधार पर होगा। कुछ प्रश्नों का लेवल सेकंडरी स्तर का होगा। सिलेबस पांच खंडों में बंटा है। हर खंड से 30 सवाल होंगे। कुल 150 प्रश्न 150 अंकों के होंगे।
लेवल द्वितीय : प्रश्नों का मापदंड कक्षा 6 से 8 तक के पाठ्यक्रम के आधार पर होगा। कुछ प्रश्न 12वीं के स्तर के होंगे। सिलेबस चार खंड में होगा। तीन खंड से 30-30 और चौथे से 60 सवाल होंगे। यानी कुल 150 प्रश्न 150 अंकों के होंगे।



3 comments: